News.

Back

Loan waiver in Madhya Pradesh: कर्जमाफी के नाम पर झुनझुना,13 रुपये की राहत को शिवराज ने बताया भद्दा मजाक

24 Jan 2019

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में किसानों की कर्जमाफी का मुद्दा छाया रहा। कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में ऐलान किया था कि किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज को माफ कर देंगे। कुर्सी संभालते ही मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ ने किसानों की कर्जमाफी की फाइल पर हस्ताक्षर कर दिए। लेकिन अब इस मामले में कई तरह की परेशानियां सामने आ रही हैं।

मसलन कुछ किसानों का कहना है कि उन लोगों ने लोन नहीं लिया है लेकिन उनके नाम कर्जमाफी की लिस्ट में है। इसके साथ ही कुछ किसान ऐसे हैं जिनका कहना है कि उनका कर्ज माफ जरूर हुआ है। लेकिन रकम की राशि सुनकर हैरत में पड़ जाएंगे। मालवा के रहने वाले निपानिया बैजनाथ का कहना है कि उनका नाम कर्जमाफी की लिस्ट में है लेकिन कर्ज के नाम पर 13 रुपए माफ हुए। सरकार को उनका 20 हजार रूपए के कर्ज को माफ करना चाहिए क्योंकि सरकार खुद कह चुकी है कि 2 लाख रुपये तक कर्ज माफ किए जाएंगे।

View image on TwitterView image on Twitter

ANI@ANI

MP:A farmer of Agar Malwa's Nipania Baijnath alleges his name was included in list of farm loan waiver,stating only Rs 13 waived off from loan of Rs 20000.Says,"My loan of Rs 20000 must be waived off as govt is waiving off loans up to Rs 2 Lakh.Officials say can do nothing.(21.1)

180

162 people are talking about this

Twitter Ads info and privacy


अब इस मुद्दे पर मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि इस तरह की खबरें आ रही हैं कि किसानों का 10, 20 या 50 रुपये का कर्ज माफ हुआ है, ये तो भद्दा मजाक है। बुधवार को उन्होंने कर्जमाफी की लिस्ट देखी थी आधा से अधिक नाम अंग्रेजी में थे। मध्य प्रदेश की अधिकांश जनता अंग्रेजी नहीं समझती है आखिर ये सब क्या हो रहा है। 

 

 

ANI@ANI

Bala Bachchan, Home Min, on reports of some farmers got loan waiver of less than Rs 100: Whosoever faces this problem should inquire about it from bank officials.We'll waive off loans up to Rs2 lakhs of farmers who are eligible&took loan within specified time frame

39

20 people are talking about this

Twitter Ads info and privacy


ये बात अलग है कि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन का कहना है कि ये बात सच है कि कुछ किसानों को महज 100 रुपए की राहत मिली है। लेकिन जिन लोगों को परेशानी है वो संबंधित अधिकारियों और बैंकों से मिलें। सरकार की तरफ से स्पष्ट आदेश है कि जिन किसानों ने तय समयसीमा के अंदर 2 लाख रुपए तक का लोन लेंगे उन्हें कर्जमाफी का फायदा मिलेगा।